Ayushman Bharat Golden Card : जानें कैसे मिलेगा Ayushman Bharat Card, देखें प्रॉसेस

Ayushman Bharat Golden Card :  कोरोना महामारी के इस दौर में स्वास्थ्य बीमा हर व्यक्ति की एक अनिवार्य आवश्यकता है। महंगा इलाज और अस्पताल का बढ़ता खर्च कभी-कभी आर्थिक रूप से संपन्न लोगों के लिए भी मुश्किल बना देता है, ऐसे में बीमा सबसे बड़े सहयोगी की भूमिका निभाता है। वे लोग जो निजी कंपनियों में काम करते हैं, उन्हें कंपनी से समूह बीमा समूह बीमा का लाभ मिलता है, लेकिन बीमार अभी भी आम आदमी या असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों के लिए सुलभ और आसान नहीं है ( Ayushman Bharat Golden Card ) !

Ayushman Bharat Golden Card

Ayushman Bharat Golden Card
PM Ayushman Bharat Golden Card

स्वास्थ्य बीमा प्रीमियम की लागत आम आदमी को निजी स्वास्थ्य बीमा से दूर रखती है। जाहिर है ऐसे में आम आदमी की नजर सिर्फ और सिर्फ सरकारी अस्पतालों की तरफ है जहां उन्हें सस्ता इलाज मिल सके. हालांकि आयुष्मान भारत योजना ( Ayushman Bharat Yojana ) की शुरुआत सरकार की ओर से आम और गरीब व्यक्ति के लिए की गई है।

आयुष्मान भारत योजना ( Ayushman Bharat Yojana ) भारत सरकार की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना (आयुष्मान भारत योजना) है जिसमें केवल एक कार्ड की मदद से गरीब लोगों का मुफ्त इलाज किया जाता है। कोरोना महामारी के बाद आप सभी ने महसूस किया होगा कि आपका स्वास्थ्य बीमा होना कितना जरूरी है। अगर आपको स्वास्थ्य बीमा नहीं मिल रहा है तो आप आयुष्मान योजना के जरिए बड़ी बीमारियों का इलाज करा सकते हैं। आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड ( Ayushman Bharat Golden Card ) का आयुष्मान योजना में बहुत महत्व है ! यह आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड क्या है

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड ( Ayushman Bharat Golden Card ) एक विशेष कार्ड है जिसकी मदद से गरीब लोगों को 5 लाख तक का मुफ्त इलाज मिल सकता है। यह ग्रामीण और शहरी दोनों लोगों के लिए है। अब तक बहुत से लोगों को उनका गोल्डन कार्ड मिल चुका है, अगर आपने इसके लिए आवेदन नहीं किया है तो जल्द ही अपना आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनवाएं।

आवेदन कैसे करें : Ayushman Bharat Golden Card

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड पाने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा लेकिन आप घर बैठे इसके लिए आवेदन नहीं कर सकते। आयुष्मान भारत योजना ( Ayushman Bharat Yojana ) बनाने के लिए आपको अपने नजदीकी सीएससी सेंटर में जाना होगा या फिर जिला कार्यालय में जाकर बनवा सकते हैं। इसके लिए जरूरी दस्तावेज हैं आधार कार्ड, समग्र आईडी, राशन कार्ड, फोटो, वोटर कार्ड।

लाभ

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड ( Ayushman Bharat Golden Card ) बनवाने से आपको कई फायदे मिल सकते हैं।

  • इसके तहत आप 1350 उपचार जैसे सर्जरी, मेडिकल द केयर ट्रीटमेंट, डायग्नोस्टिक आदि प्राप्त कर सकते हैं।
  • इसमें 19 आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक, योग, यूनानी उपचार भी शामिल हैं।
  • इसके तहत आप देश के सरकारी और निजी अस्पतालों में जाकर 5 लाख तक का मुफ्त इलाज करा सकते हैं और अपनी बीमारी से मुक्त हो सकते हैं.

पात्रता की जांच कैसे करें

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड पाने के लिए इसका पात्र होना जरूरी है। अपनी योग्यता जांचने के लिए दी गई प्रक्रिया का पालन करें।

  1. सबसे पहले आयुष्मान भारत योजना ( Ayushman Bharat Yojana ) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  2. इसके बाद आपको अपना मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड भरना होगा। आपके नंबर पर एक ओटीपी आएगा और उसे सबमिट कर आगे बढ़ जाएगा। इसके बाद आप चार विकल्पों के जरिए अपनी योग्यता की जांच कर सकते हैं – आपके नाम से / एचएचडी नंबर के माध्यम से /राशन कार्ड नंबर के माध्यम से / मोबाइल नंबर के माध्यम से
  3. इन्हें भरकर सबमिट कर दें। आपको पता चल जाएगा कि आप पात्र हैं या नहीं। अगर आप आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाना चाहते हैं तो ज्यादा चिंता न करें, आप सीधे नजदीकी सीएससी सेंटर जाएं, वहां आप आसानी से आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं !

Ayushman Bharat Golden Card कैसे डाउनलोड करें

आप आधार कार्ड की तरह आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड डाउनलोड नहीं कर सकते। इसे डाउनलोड करके दिया जाएगा जहां से आपने इसे बनवाया है। जैसे आपने नजदीकी सीएससी सेंटर से बनवाया है तो आपको वहां जाकर उनसे आयुष्मान गोल्डन कार्ड डाउनलोड करके प्रिंट करने के लिए कहना होगा। इसके अलावा अगर आपने आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड ( Ayushman Bharat Golden Card ) किसी एजेंट के जरिए बनवाया है तो वे आपके लिए यह कार्ड लाएंगे, आप स्वयं इस आयुष्मान भारत योजना ( Ayushman Bharat Yojana ) कार्ड को डाउनलोड नहीं कर सकते।

यह भी पढ़ें – PNB FD Intrest Rate : पीएनबी ने Fixed Deposit की ब्याजदर बदली, देखें नयी दर

PM Fasal Bima Yojana : किसानों को मिलेगा नुकसान का मुआवजा, फसल बीमा योजना के लिए ऐसे करें आवेदन